19वीं राष्ट्रीय एथलेटिक्स प्रतियोगिता 15 से, देश के सभी राज्यों एवं अन्य इकाइयों के बालक एवं बालिकाएं लेंगे भाग

बिलासपुर 19वीं नेशनल यूथ एथलेटिक्स प्रतियोगिता का आयोजन 15 जून से राज्य खेल प्रशिक्षण केंद्र बहतराई बिलासपुर के एथलेटिक्स स्टेडियम में होना है। इस प्रतियोगिता में देश के सभी राज्यों…

19वीं राष्ट्रीय एथलेटिक्स प्रतियोगिता 15 से, देश के सभी राज्यों एवं अन्य इकाइयों के बालक एवं बालिकाएं लेंगे भाग

बिलासपुर

19वीं नेशनल यूथ एथलेटिक्स प्रतियोगिता का आयोजन 15 जून से राज्य खेल प्रशिक्षण केंद्र बहतराई बिलासपुर के एथलेटिक्स स्टेडियम में होना है। इस प्रतियोगिता में देश के सभी राज्यों एवं अन्य इकाइयों के 18 वर्ष से कम आयु वर्ग के बालक एवं बालिकाएं भाग लेंगे। आयोजन समिति के अध्यक्ष व संभागायुक्त संजय अलंग के दिशा-निर्देश में प्रतियोगिता की तैयारी अंतिम दौर पर है।

इस राष्ट्रीय एथलेटिक्स प्रतियोगिता के सफल आयोजन के लिए सोमवार को बहतराई स्टेडियम में एक महत्वपूर्ण बैठक आयोजित की गई। यह बैठक आयोजन समिति के सदस्यों और विभिन्न विभाग प्रमुखों की उपस्थिति में हुई। बैठक में प्रतियोगिता से जुड़े सभी मुख्य मुद्दों पर गहन चर्चा की गई। इसमें भोजन व्यवस्था, आवास व्यवस्था, यातायात, बिजली, चिकित्सा, पानी, और ग्राउंड की सफाई विषयों पर चर्चा हुई और महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए।

आयोजन समिति ने सभी विभागों को उनके कार्यों और जिम्मेदारियों के बारे में स्पष्ट निर्देश दिए हैं। समिति ने यह भी सुनिश्चित किया कि प्रतियोगिता के दौरान किसी भी प्रकार की समस्या का समाधान तुरंत किया जाएगा। सभी सदस्यों ने एकमत से इस बात पर सहमति जताई कि प्रतियोगिता को सफल और यादगार बनाने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए जाएंगे।

बिलासपुर में आयोजित होने वाली इस राष्ट्रीय एथलेटिक्स प्रतियोगिता के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। इस महत्वपूर्ण बैठक में सहायक संचालक खेल एवं युवा कल्याण विभाग ए एक्का, जसविंदर सिंह भाटिया (द्रोणाचार्य अवार्डी), डा. सुनील गौराहा, डा.अजय यादव, डा. बसंत अंचल, डा. अजय सिंह , छत्तीसगढ़ हाकी संघ के महासचिव मनीष श्रीवास्तव, छत्तीसगढ़ एथलेटिक्स संघ के उपाध्यक्ष सुशील मिश्रा, संघ के महासचिव अमरनाथ सिंह, मुख्य प्रशिक्षक पीजी कृष्णनन, सुभाष कुमार, बी अनिल, के श्रीनू, दीपक कुमार, देवेंद्र राठौर, जीवन रजक, रवि पारिक, अनिल कुमार व अन्य पदाधिकारी शामिल हुए। यह जानकारी छत्तीसगढ़ एथलेटिक्स संघ के प्रवक्ता व संयुक्त सचिव हेमंत सिंह परिहार ने दी।

भोजन व्यवस्था- सभी अंतरराष्ट्रीय, राष्ट्रीय एवं राज्य स्तर के तकनीकी अधिकारियों, प्रशिक्षक, वालंटियर्स एवं आयोजन समिति के लिए पौष्टिक और संतुलित भोजन की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। आयोजन स्थल पर विभिन्न प्रकार के भोजन स्टाल लगाए जाएंगे। इसके साथ ही विशेष आहार आवश्यकताओं का भी ध्यान रखा जाएगा।

आवास व्यवस्था- सभी अधिकारियों के लिए शहर के प्रमुख होटलों और गेस्ट हाउस में आवास की व्यवस्था की गई है। प्रत्येक आवास स्थल पर सुरक्षा और स्वास्थ्य सुविधाओं का विशेष ध्यान रखा जाएगा।

यातायात- प्रतियोगिता स्थल तक आने-जाने के लिए विशेष बस सेवा का प्रबंध किया गया है। यातायात व्यवस्था को सुचारू रूप से संचालित करने के लिए पुलिस और यातायात विभाग के सहयोग से विशेष योजना बनाई गई है।

बिजली और पानी- आयोजन स्थल पर निरंतर बिजली और पानी की आपूर्ति सुनिश्चित की गई है। इसके लिए अतिरिक्त जनरेटर और पानी के टैंकर भी उपलब्ध रहेंगे, ताकि किसी भी प्रकार की असुविधा न हो।

ग्राउंड की सफाई- एथलेटिक्स ग्राउंड की सफाई और रखरखाव के लिए विशेष टीम बनाई गई है। प्रतियोगिता से पहले और बाद में ग्राउंड की नियमित सफाई कराई जाएगी। इसके अलावा, कचरे के निपटान के लिए उचित प्रबंध किए गए हैं।

चिकित्सा- प्रतियोगिता के दौरान चिकित्सा सहायता के लिए एक समर्पित चिकित्सा टीम और एम्बुलेंस सेवा की व्यवस्था की गई है। आयोजन स्थल पर प्राथमिक उपचार केंद्र भी स्थापित किए जाएंगे , ताकि किसी भी आपात स्थिति में त्वरित सहायता प्रदान की जा सके।